Kaam Uchchatan Mantra


Kaam Uchchatan Mantra

Kaam Uchchatan Mantra

 

कामुक विचार और व्यवहार कभी-कभी संकट और भ्रम पैदा कर सकती हैं, विशेष रूप से मंत्रों का उच्चारण करते हुए और देवताओं की साधना करते हुए। साधना करते हुए मन यौन कल्पनाओं पर अटक जाता है। साधक देवी-देवताओं की कल्पना और ध्यान करने की कोशिश करता है लेकिन मन में दृश्य अलग हि  होते हैं। साधना करते समय मन में यौन विचार उभर हि आते हैं। साधक अक्सर इस परिदृश्य में पछतावा करता है।

 

यह ध्यान रखना ज़रूरी है कि ये विचार अकारण भी हो सकते हैं। कामुक विचारों का मुख्य कारण एक सीखा हुआ व्यवहार है जो एक व्यक्ति अपने वातावरण से सीखता है जैसे चलचित्रों से यौन दृश्यों को देखना। चलचित्रों में जो एक साधक देखता है, उसमें यौन संदेश होते हैं। यौन संदेश अपने अन्तर्मन में प्रवेश कर जाते हैं और विशेष रूप से मंत्र जप करते समय चित्त में वापस आ जाते हैं | 

 

साधक मन को शांत करने और यौन कल्पनाओं और छवियों को नियंत्रित करने का काफी प्रयत्न करता है लेकिन अवचेतन मन में बार-बार यह छवियाँ उभरती रहती हैं|  कभी-कभी साधक सिर्फ इसी कारण से साधना का त्याग कर देता है। इस प्रवृत्ति को काम उच्चाटन मंत्र साधना के द्वारा नष्ट किया जा सकता है।काम उच्चाटन मंत्र साधना भगवान शिव की साधना है, जिन्होंने कामदेव को नष्ट कर दिया था, जब उन्होंने भगवान शिव पर अपना दुष्प्रभाव डालने की कोशिश की थी| 

 

जब भगवान शिव ने महसूस किया कि अनंग उनके मन में कामुकता का वेग प्रकट करने का प्रयत्न कर रहा है, तो वह क्रोधित हो गए और उन्होंने कामदेव को क्रोध में आकर अपनी तीसरी आंख खोल कर भस्म का दिया, और फिर वही भस्म को अपने शरीर पर लगाया और इस प्रकार से भगवान शिव को कामेश्वर के रूप में जाना जाने लगा | 

 

काम उच्चाटन मंत्र प्रयोग यौन लत, यौन इच्छाओं और यौन कल्पनाओं को नष्ट करने के लिए एक अद्भुत अनुष्ठान है। इस साधना को करते समय एक साधक को सात्विक भोजन का सेवन करना चाहिए। मन की शुद्ध स्थिति प्राप्त करने के लिए टीवी शो, फिल्मों और मोबाइल की लत से बचना चाहिए।

 

कैसे करें काम उच्चाटन मंत्र का जाप

  • किसी भी गुरुवार से काम उच्चाटन मंत्र की शुरुआत करनी चाहिए।
  • गुरु मंत्र का 1 माला जप करें और गुरु पूजा करें।
  • सफेद वस्त्र पहनें और उत्तर की ओर मुख करके बैठें।
  • प्राण प्रतिष्टित मूँगा माला के साथ काम काम उच्चाटन मंत्र का 21 माला जप करें।
  • साधना करते समय केवल एक बार भोजन करें।
  • साधना पूर्ण होने के बाद सुबह 11 बार और रात में 11 बार मंत्र का जाप करें।

Kaam Uchchatan Mantra 

ॐ नमः शिवाय पुष्टाय वरदाय अनङ्ग उच्चाटनाय नमः | 

Om Namah Shivay Pushtay Varday Anang Uchchatnay Namah:

काम उच्चाटन मंत्र प्रयोग साधना के लिए आवश्यक सामग्री एवं तथ्य 

प्राण प्रतिष्टित मूँगा माला 
सफेद वस्त्र 
जप संख्या - 21000
समय अवधि : 10 दिन 
दिशा : उत्तर
समय : रात्रि को किसी भी समय 

वर्ष में एक बार साधना अवश्य करनी चाहिए।


 Contact WhatsApp

Published on Jul 19th, 2020


Do NOT follow this link or you will be banned from the site!