भगवती जगदंबा के दिव्य प्रकाश पुंज


Divine Experiences GuruShakti

 

experience durga

जय गुरुदेव| गुरुदेव आपके चरणो में मेरा कोटि-कोटि नमन गुरुदेव जीवन में मिलना हे मेरे लिए परम सौभाग्य है गुरुजी मिलने से पूर्व मैंने जीवन में बहुत से साधु-संतों और गुरु से संपर्क किया मेरे मन को संतोष नहीं मिल सका | एक  मित्र ने आपके बारे में बताया|

 

 कौतूहल वश मैंने आपको संपर्क किया आपने मुझे अध्यात्म बाद में सफलता के लिए गुरु दीक्षा और दुर्गा दीक्षा के लिए प्रेरित किया |  मैंने सर्वप्रथम गुरु दीक्षा दीक्षा मंत्र का सवा लक्ष जाप किया और उसके बाद भगवती दुर्गा का सवा लक्ष पुष्करण किया| आपने जो मुझे दुर्गा मंत्र दिया था वो आज तक मैंने किसी पुस्तक में नहीं देखा और न ही किसी से सुना | 

 

गुरुदेव इन दिनों में मुझे बहुत सारी दिव्य अनुभूतियां हुई और  मैं जीवन में उन आयामों को देख सका जो कभी दुर्लभ थे|  मैंने भगवती जगदंबा के उस दिव्य प्रकाश पुंज का दर्शन किया|  मैंने उस भारहीनता का अनुभव किया जिसमें मैं किसी भी लोक में जा सकता था| 

 

गुरुजी मेरी कुछ स्वास्थ्य से संबंधित मुश्किलें थी इसके बाद पूर्णता दूर हो गई अब मेरे जीवन में एक नई उर्जा और नई प्रेरणा है|  यह सब आपके ज्ञान और कृपा से ही संभव हो सका है | मेरे जीवन में और ऊर्जा का नया आयाम शुरू हो चुका है|  आप मेरे लिए ब्रह्मा विष्णु और महेश है| 

 

मैं जीवन मेंआपका सदैव ऋणी रहूंगा| 

 

आपका शिष्य 
आनंद 


 Contact WhatsApp

Published on Mar 9th, 2020


Related Posts



Do NOT follow this link or you will be banned from the site!