दुर्गा शूलिनी दुष्ट ग्रह निवारण मंत्र


Durga Shoolini Mantra To Remove Malefic Effects of Planets

 

 Durga Shoolini Mantra

 

दुर्गा  हिन्दुओं की प्रमुख देवी हैं  जिन्हें  केवल देवी  और शक्ति भी कहते हैं। शाक्त सम्प्रदाय की वह मुख्य देवी हैं जिनकी तुलना परम ब्रह्म  से की जाती है। दुर्गा देवी आठ भुजाओं से युक्त हैं  जिन सभी में कोई न कोई  शस्त्रास्त्र होते है। उन्होने महिषासुर नामक असुर का वध किया।

 

माँ दुर्गा को अदि शक्ति, शक्ति, भवानी, और जगदम्बा जैसे कई नामों से पूजते हैं। पौराणिक कथाओं के अनुसार माँ दुर्गा का जन्म राक्षसों का नाश करने के लिए हुआ था। यही कारण हैं कि हम नवरात्र में माँ दुर्गा की पूजा करते हैं।

 

इन दिनों में माता की पूजा और भक्ति का फल जल्दी मिलता है। इसका कारण यह माना जाता है कि मां नवरात्र के नौ दिनों में पृथ्वी पर आकर भक्तों के बीच रहती हैं। इसलिए मां को खुश करने के लिए भक्त विधि-विधान पूर्वक आरती, पूजा एवं दुर्गा सप्तशती का पाठ करते हैं।

 

अपने भक्तों पर कृपा और ममता लुटाने वाली मां दुर्गा दुष्टों का काल है, नवरात्रि पर मां से प्रार्थना करें कि वो आपके आसपास मौजूद सभी बुरी शक्तियों का नाश कर दे | नवरात्रि के दिनों में शूलिनी दुर्गा मंत्र जपने का विधान है | इस मंत्र के फल स्वरुप, सभी दुष्ट ग्रहों का , विपरीत प्रभाव  समाप्त हो जाता है और जीवन में  सौभाग्य, और शांति की प्रापति होती है |

 

How To Do The Durga Shoolini Mantra Sadhna

  • यह मंत्र साधना बहुत ही तीव्र मंत्र साधना है |
  • यह मंत्र नवरात्रि में किसी भी दिन से प्रारम्भ किया जा सकता है | 
  • ब्रह्म मुहुर्त में लाल वस्त्र धारण कर काली हकीक़ माला से इस मंत्र का जप किया जाता है | 
  • भगवती दुर्गा का संक्षिप्त पूजन करने के पश्चात् इस मंत्र की 11 माला करने का विधान है | 
  • यह साधना मात्र 9 दिनों की है |
  • दसवें दिन 1008 आहुति दे कर भगवती दुर्गा को प्रसन्न किया जाता है | 
  • इस साधना के फल स्वरुप सभी नवग्रह अनुकूल फल प्रदान करते हैं | 

 Durga Shoolini Mantra

ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं क्ष्रौं दुं ज्वल ज्वल शूलिनी दुष्टग्रह हुं फट स्वाहा |

Om Shreem Hreem Kleem Kshraum Dum Jwal
Jwal Shoolani Dusht Graha Hum Phat Swaha

 

Click Here For The Audio of Durga Shoolini Mantra


 Contact WhatsApp

Published on Sep 29th, 2019


Do NOT follow this link or you will be banned from the site!