Black Magic and Ghost Removal Nrisimha Mantra


भूत प्रेत आदि सर्व बाधा नाशक श्री नृसिंह मंत्र  

 

Narasimha Mantra
यह मंत्र रौद्रावतार नृसिंह भगवान का है जिन्होंने हिरण्यकशिपु के वक्ष स्थल को विदिरण किया और अपने भक्त प्रह्लाद की रक्षा की थी और साथ में की सभी प्रकार की ऋद्धि सिद्धियाँ प्रदान की | इस मंत्र की साधना परम श्रधा और भक्ति से करने वाले मनुष्य से सारी बाधाएँ दूर रहती हैं और हर प्रकार की सम्पतियों का वो स्वामी बन जाता है |
 

How To Chant The Narasimha Mantra

  • इस मंत्र की साधना भगवान विष्णु के मंदिर में ही करनी चाहिये | 
  • शुद्ध हो कर भगवन का संक्षिप्त पूजन कर ११ दिनों में या २१ दिनों में २१००० मंत्र का जप करने का विधान है |
  • जप के उपरान्त खीर, शहद, घी, गुगुल, लौंग, कर्पूर आदि के मिश्रण स्वरुप २१०० आहुतियों से हवन शुद्ध काष्ठ की अग्नि से करना चाहिये |
  • सामर्थ्य के अनुसार ब्राह्मणों को भोजन करवाना चाहिए |
  • इस सिद्ध मंत्र का प्रयोग अपने लिए या दूसरों के कल्याण के लिए किया जा सकता है |
  • भूतादि बाधा में रोगी को अपामार्ग से २१ बार झाड़ने मात्र से भूत प्रेत सब शीघ्र ही पलायन कर जाते हैं |

      नृसिंह मंत्र  

"ॐ नमो नरसिम्हाय हिरण्यकशिपु वक्ष विदारणाय त्रिभुवन व्यापकाय भूत पिशाच शाकिनी डाकिनी कीलनोन्मूलनाय

स्यंवाद भव समस्त दोषान् हन हन सर सर चल चल कम्प कम्प मथ मथ हुं फट हुं फट ठः ठः ठः महारुद्र जातियत स्वाहा |"

Om Namo Narsimhay Hiryanykshipu Vaksh Vidaarnaay Tribhuvan Vyapakay Bhut Pishach Sahkini Dakini Keelanomulnaay syanvaad bhav smast doshan han han sar sar chal chal kamp kamp math math hum phat hum phat Tha: Tha: Tha: Maharudra Jatiyat Swaha


Published on Apr 17th, 2018


Do NOT follow this link or you will be banned from the site!